झारखण्ड में 1 करोड़ लोगों को लगेगा वैक्सीन, पहले चरण में 3.5 लाख हेल्थ-फ्रंटलाइन वर्कर को

फ्रेश बुलेटिन , रांची
लोगों को खुशियों की वैक्सीन कहे जाने वाले कोरोना वैक्सीन का बेसबरी से इंतज़ार है और अब लगता है उनका यह इंतज़ार खत्म होने को है। सरकार के ओर राज्य में कराेड़ लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगेगी। पहले चरण में 1.50 लाख हेल्थ केयर वर्कर्स और 2 लाख फ्रंट लाइन वर्कर्स को मुफ्त में वैक्सीन दी जाएगी। टीका लेने वालों को डिजिटल प्रमाण पत्र दिया जाएगा। इसे लेकर गुरुवार को मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन ने समीक्षा बैठक की। उन्होंने टीकाकरण और कोल्ड चेन मैनेजमेंट से जुड़ी तैयारियों की जानकारी ली। साथ ही संबंधित विभागों और निजी स्वास्थ्य संस्थाओं के बीच समन्वय बनाते हुए पूरी व्यवस्था दुरुस्त करने का आदेश दिया।

पहले चरण में इन्हे लगेंगे टीके
जानकारी के मुताबिक कोरोना वैक्सीन के पहले चरण में डाॅक्टर, नर्स, स्वास्थ्यकर्मी, आंगनबाड़ी सेविकाएं, पुलिस जवान, सशस्त्र बल, होमगार्ड, जेल कर्मचारी, आपदा प्रबंधन समन्वयक, नागरिक सुरक्षा संगठन, नगरपालिका कर्मी और राजस्व अधिकारीको टीका लगेगा।

नि:शुल्क ही टीकाकरण अभियान चलाए जाने की संभावना है
बैठक में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का और स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव नितिन मदन कुलकर्णी उपस्थित थे। जानकारी के मुताबिक, टीकाकरण अभियान में लाभार्थियों को टीका का खर्च नहीं देना होगा। सरकारी खर्च पर पहले चरण में लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। आगे भी नि:शुल्क ही टीकाकरण अभियान चलाए जाने की संभावना है। खबरों के अनुसार राज्य में मकर संक्राति के बाद वैक्सीनेशन शुरू हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.