भारत- इजराइल ने बनाया मिसाइल डिफेन्स सिस्टम, होगी दोनो देशों की रक्षा सुरक्षा मज़बूत

फ्रेश बुलेटिन

भारत और इजराइल के बीच कूटनीतिक संबंध काफी मजबूत रहे हैं, अब दोनों देशों ने साथ मिलकर मीडियम रेंज वाले एयर मिसाइल डिफेंस सिस्टम का सफल परीक्षण किया है। ये मीडियम रेंज मिसाइल डिफेंस सिस्टम दोनों देशों की युद्धक क्षमताओं में इजाफा करेगा। ये परीक्षण पिछले हफ्ते भरता में ही किया गया, मंगलवार को इजरायल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज की तरफ से इस बारे में जानकारी साझा की गई। यह रक्षा के क्षेत्र में भारत और इजरायल की एक और नई उपलब्धि से दोनों ही देशों को मजबूती प्रदान करेगी और दुश्मन के हवाई हमले से सुरक्षा भी मिलेगी. ये मिसाइल सिस्टम कई मायनों में खास है।

आधुनिक तकनीकियों से लैस है यह मिसाइल सिस्टम

ये डिफेन्स सिस्टम बेहद आधुनिक है. इसमें उन्नत किस्म की आरे-रडार का प्रयोग किया गया है, साथ ही इसके अंदर कमांड-कंट्रोल, मोबाइल लॉन्चर्स और एडवांस इंटरसेप्टर्स भी लगाए गए हैं। आईएआई की तरफ से जारी प्रेस रिलीज में भी इसकी जानकारी दी गई है। Iआईएआई ने बताया है कि टेस्ट के दौरान जमीन से मोबाइल लॉन्चर के जरिए मिसाइल छोड़ा गया था जिसने एकदम सटीक निशाने पर अपने टारगेट को हिट किया। भारतीय सेना के तीनों प्रमुख अंग यानी थलसेना, वायुसेना और नौसेना में इस एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम का इस्तेमाल किया जाना है। इजरायल की डिफेंस फोर्स भी इसका उपयोग करेंगी।

इजराइली सेना को है गर्व

परीक्षण के दौरान इजरायल के रक्षा विशेषज्ञ और भारतीय साइंटिस्ट भी मौजूद रहे और वो इसके गवाह बने. इजरायल की सेना एमएसआरएम के सफल परीक्षण से काफी गौरवान्वित है और इस प्रोजेक्ट को भारत के साथ रिश्तों को और मजबूती देने की दिशा में अहम मान रही है।आईएआई के अध्यक्ष और सीईओ बोज़ लेवी ने कहा है कि एमएसआरएम एक अत्याधुनिक सिस्टम है जिसने एक बार फिर अपनी क्षमताओं को साबित किया है। लेवी ने कहा कि एयर डिफेंस सिस्टम में यूं तो हर ऑपरेशन काफी चुनौतियां वाला होता है लेकिन कोविड-19 के दौरान में ज्यादा मुश्किलों का सामना करना पड़ा है। साथ ही उन्होने यह भी कहा कि यह परीक्षण भारत और इजरायल के मजबूत रिश्तों का एक और सबूत है। साथ ही उन्होंने कहा कि भारतीय फोर्स और डीआरडीओ के साथ मिलकर इस ऑपरेशन को लीड करना आईएआई के लिए बेहद गर्व की बात है।

ट्रेंडिंग न्यूज

Leave a Reply

Your email address will not be published.