सामूहिक विवाह समारोह का निवर्तमान सभापति ने किया उद्घाटन

by- Sachin Kachhap

आल इंडिया साइंस एण्ड मैजिक फाउंडेशन के सामूहिक विवाह समारोह निवर्तमान सभापति ने किया उद्घाटन । इस मौके पर कही हमारी सोंच, संस्कार और कर्म में सन्निहित है सेवा का भाव, स्वस्थ हो मैं पहले से भी ज्यादा संकल्पित हूं  । साथ ही कही कन्या दान महादान होता है हमारे जीवन मे ।

सड़क हादसे में जख्मी होने के बाद दिल्ली में इलाज से स्वस्थ होकर महीनों बाद बेतिया नगर निगम की निवर्तमान सभापति गरिमा देवी सिकारिया सोमवार को सार्वजनिक मंच पर महीनों बाद पहुंचीं। नगर के दुर्गाबाग मंदिर परिसर में एक स्वयंसेवी संगठन के सामूहिक विवाह समारोह का उद्घाटन करने के बाद भावुक हुईं श्रीमती सिकारिया ने कहा कि आज ऐसे लग रहा है कि एक पुनर्जन्म लेकर मैं आप सबके बीच मौजूद हूं। मैं ऑल इंडिया साइंस एंड मैजिक फाउंडेशन एक एक सदस्य और पदाधिकारीगण का अभिनन्दन और अभिवादन करतीं हूं कि आप सबने गरीब परिवार की असहाय बेटियों के इस सामुहिक विवाह समारोह में मुझे मुख्य अतिथि बनाकर मुझे प्रस्तुत किया। आप सबने संस्थागत रूप में मुझको आज अपना कर्जदार बना लिया है।नगर निगम की निवर्तमान सभापति ने कहा कि अपने सामाजिक जीवन की आज से शुरू इस दूसरी पाली में भी मेरा नि:स्वार्थ सेवा भाव जारी रहेगा। अपना सेवा व्रत जारी रखने की यह प्रेरणा एक जानलेवा सड़क हादसे में बेहद गम्भीर रूप से जख्मी होने के बावजूद आज पूर्णतया स्वस्थ होकर आप सबके बीच उपस्थित हो पाने से मिली है। सामुहिक विवाह समारोह में तीन कन्याओं का विवाह संपन्न हुआ। जिसमें वर अजीत राम पिता हरिंदर राम ग्राम पुरुषोत्तमपुर के साथ ,वधू रीता कुमारी पिता स्वर्गीय चंचल राम ग्राम  चैलाभार मोहद्दीपुर, वही ग्राम सिंघाडी बगहा 1के राज मंगल राम पिता सूरज राम की ग्राम पिपरा मठैया थाना बथुवड़िया की त्रिलोचन कुमारी पिता गरीब राम तथा ग्राम खोडवा थाना मझौलिया मुन्ना कुमार पिता राम धन साह के साथ चंद्रपुर श्रीनगर पूजहाँ की सोनी कुमारी पिता लँगटू साह के साथ सम्पन्न हुई। इस समारोह की अध्यक्षता

संस्था के अध्यक्ष सुरेंद्र राउत ने की। वही इस मौके पर बेतिया नगर निगम के मेयर पद के प्रत्याशी राहुल कुमार ने इस सामुहिक विवाह मे मौजूद हो अपने को काफी गौरवान्वित महसूस करते हुए कहा की सामुहिक विवाह मे शामिल होना काफी अच्तछा लगा ।इस मौके पर जो भी गण्यमान्य लोग आये थे वह अपने सामर्थ्य के अनुसार उपहार दे वर वधु को आशीर्वाद दिया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.