साहिबगंज कार्गो शिप दुर्घटना को लेकर बाबूलाल मरांडी ने की फिर से सीबीआई जाँच की मांग…

By- Silky Annantya

साहिबगंज कार्गो शिप दुर्घटना की जाँच की मांग करते बाबूलाल मरांडी

बाबूलाल मरांडी ने साहिबगंज से बिहार को जा रही कार्गो शिप के दुर्घटना को लेकर फिर से सीबीआई जाच करने की मांग की है। 24 मार्च को मालवाहक कार्गो शिप जो की साहिबगंज-मनिहारी के बीच अंतर्राज्य फेरी सेवा के अंतर्गत चलने वाला एलसीटी जलयान हादसे का शिकार हो गया था। जिसके कारण 10 ट्रक गंगा नदी मे समा गए तथा कइयों ने अपनी जान गवा दी । भाजपा के नेता तथा पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी ने इस को ले कर सीबीआई जाँच की मांग की है ।

रविवार को रखे पार्टी कार्यालय के प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा की उन्होंने हादसे के अगले दिन 25 मार्च को सदन मे जाँच की बात की जिसके बाद ही साहिबगंज के अपर समाहर्ता, एसडीओ, माइनिंग अफसर और एक अन्य अधिकारी को जाँच के लिए भेजा गया था। बाबूलाल मरांडी ने यह भी कहा की यह हादसा 24 मार्च को देर रात घटी थी लेकिन जाँच  के दौरान जिला के डीसी ने घटना पर झूठ कहा था कि दिन में 11 बजे जहाज इस पार से अगली ओर जा रहा था. वास्तव में रात में 10.50 मे यह हादसा हुआ था। जो की नियम के विरुद्ध है। मालवाहक जहाज का फेरि लगाने का वक्त सूर्योदय के बाद और सूर्यास्त के पहले होता है। गलत सूचना देने की वजह से उन्होंने डीसी ओर एसपी की सस्पेन्शन की भी डिमांड की है।

बाबूलाल मरांडी ने सीएम हेमंत सोरेन परआरोप लगाते हुए यह भी कहा की जहाज की फेरी संबंधी काम का ठेका मुख्यमंत्री  के गुर्गों ने दो सालों बाद एक बार फिर इस साल भी ले लिया है. जो काम दो साल पहले 20-25 लाख के ठेके में हो जाता था, इस बार इसके लिये 8 करोड़ से अधिक खर्च किये गये हैं. उन्होंने यह भी कहा की वक्त की पाबंदी के बावजूद 24 धनटे जहाज फेरी  लगा रहा है जिससे की ज्यादा से ज्यादा प्राकृतिक संसाधन दूसरे राष्ट्र जा सके।

ट्रेंडिंग न्यूज

Leave a Reply

Your email address will not be published.